Ads (728x90)



गलत समय पर छींक (Sneeze) आने को भारत में शगुन और अपशगुन के साथ जोडा जाता है लेकिन छींक (Sneeze) आना एक स्‍वाभाविक प्रकिया है आइये जानते हैं हमें छींक (Sneeze) क्‍यों आती है -

Hamen Chheenk Kyon Aatee Hai

हमें छींक क्यों आती है - Hamen Chheenk Kyon Aatee Hai

छींक (Sneeze) के दौरान हमारे फैफडों की हवा तेेजी से हमारी नाक के रास्‍ते बाहर आना है यह क्रिया तब होती है जब हमारी नाक के अन्‍दर कुछ चला जाता है और नाक की म्यूकस झिल्ली (Mucous membranes) से टकराता तो हमारी छींक (Sneeze) का कारण बनता है, हमारी नाक तेजी उसे कटरे का बाहर निकालने की कोशिश करती है, जिस कारण हमें छींक (Sneeze) आती है ऐसा तब भी होता है जब हमें जुकाम हो जाता है क्‍योंकि जब हमें जुुकाम हो जाता हैै तो हमारी नॉक की छिल्‍ली सूज जाती हैंं और उसमें खुजलाहट होने लगती है और हमें छींक (Sneeze) आने लगती हैंं



हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment