Ads (728x90)



आपको कभी ना कभी तो ट्रेन में सफर करने का मौका तो मिला ही होगा और आपने देखा होगा कि प्रत्‍येक स्‍टेशन पर उस स्‍टेशन का नाम हिन्‍दी अंग्रेजी और वहॉ की लोकल भाषा में लिखा जाता है लेकिल अगर आपने कभी ध्‍यान दिया हो तो स्‍टेशन के नाम के नीचे उस स्‍टेशन की समुद्र तल से ऊॅचाई भी लिखी जाती है पर क्‍या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्‍यों हाेेता है अगर नहीें तो आइये जातने हैंं ऐसा क्‍यों 

रेलवे स्‍टेशनों पर समुद्र तल से ऊचाई क्‍यों लिखी जाती है - Why is Height from the Sea Level Written at Railway Stations

रेलवे स्‍टेशनों पर समुद्र तल से ऊचाई क्‍यों लिखी जाती है - Why is Height from the Sea Level Written at Railway Stations  


दरअसल स्‍टेशनों पर लिखी समुद्र तल से ऊॅॅचाई का आम जनता से काई मतलब नहीं है यह केवल ट्रेन के चालकों के लिए लिखी जाती है जैसा कि हम जानते हैं कि हमारी पृथ्‍वी गोल है और दुनियॉ में एक समान उंचाई नापनेे के लिए वैज्ञानिकों को ऐसे तल की जरूरत होती है जो एक समान रहे इसके लिए वैज्ञानिकों ने समुद्र को सबसे अच्‍छा माना क्‍योंकि समुद्र का पानी हमेशा एक समान रहता है अब मान लीजिए कि कोई ट्रेन 150 मीटर समुद्र तल से 200 मीटर समुद्र तल की ऊॅचाई पर जा रही है तो इस वोर्ड पर देखकर ड्राईवर अंदाजा लगा लेता है कि उसे ट्रेन के इंजन की स्‍पीड कितनी बढानी है ताकि ट्रेन और बिजली के तार आपस में संपर्क में रहें और कोई परेशानी ना हो यही कारण है कि रेलवे स्‍टेशनों पर समुद्र तल से ऊचाई लिखी जाती है  




हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment